जयपुर। राजस्थान विधानसभा में मंगलवार का दिन गुर्जर आरक्षण बिल पारित होने के लिए तो मशहूर हुआ ही। साथ ही एक और वाकये के लिए यादगार बन गया जब विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी ने कांग्रेस सरकार के एक मंत्री को फटकार लगाते हुए होमवर्क करके आने की सलाह दे डाली। दरअसल, विपक्ष के प्रश्नों का जवाब देने के लिए बिना तैयारी के आना राजस्व मंत्री हरीश चौधरी को महंगा पड़ गया। बुधवार को एक सवाल के जवाब में चौधरी जब सटीक उत्तर नहीं दे पाए तो अध्यक्ष सीपी जोशी ने जवाब को नामंजूर कर प्रश्न को आगे की कार्यवाही के लिए स्थगित कर दिया।

प्रश्नकाल के दौरान भारतीय जनता पार्टी के विधायक मदन दिलावर ने सरकार से सवाल करते हुए रामगंज मंडी और अटरू में कृषि भूमि पर चल रहे अतिक्रमण कार्यों की जानकारी मांगी। सवाल के जवाब में मंत्री हरीश चौधरी ने न्यायालय में चल रहे प्रकरणों की जानकारी देना शुरू कर दिया। जिस पर दिलावर ने आपत्ति जताते हुए कृषि भूमि पर हो रहे अतिक्रमणों के खिलाफ कार्रवाई की सूची मांगी। सवाल के जवाब में जब चौधरी गोलमाल जवाब देने लगे तो दिलावर ने सरकार पर तथ्य छुपाने का आरोप लगाया। भाजपा नेता मदन दिलावर के आरोपों को सही मानते स्पीकर जोशी ने उक्त प्रश्न को स्थगित करते हुए आगे कार्यवाही के लिए सुरक्षित रख लिया। सीपी जोशी के इस फैसले का भाजपा सहित अन्य सभी विपक्षी पार्टियों ने स्वागत किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here